देहरादून

बीएएमएस की फर्जी डिग्री बेचने वाले इमलाख की सम्पत्ति होगी कुर्क

देहरादून। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि बीएएमएस की फर्जी डिग्री बेचने वाले मुख्य आरोपी इमलाख पर गैंगस्टर की कार्यवाही के साथ ही उसकी सम्पत्ति भी कुर्क की जायेगी।

आज यहां अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड ने बताया कि उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा विगत माह में प्रदेश में प्रैक्टिस कर रहे बी.ए.एम.एस. की फर्जी डिग्री वाले आयुर्वेदिक चिकित्सकों के गिरोह का भण्डाफोड़ किया गया था, जिसकी जांच जनपद देहरादून पुलिस द्वारा की जा रही है, जिसमें अब तक 07 फर्जी चिकित्सक गिरफ्तार हो चुके हैं। इस गिरोह का मास्टर माइण्ड 25 हजार रूपये का ईनामी इमलाख को एसटीएफ द्वारा 02 फरवरी, 2023 को किशनगढ़ जिला अजमेर राजस्थान से गिरफ्तार किया गया। इमलाख के बारे में जानकारी की गयी तो वह कोतवाली मुजफफरनगर का कुख्यात हिस्ट्रीशीटर है। इसके द्वारा अपने भाई इमरान के साथ बरला थाना क्षेत्र मुजफ्फरनगर में बाबा ग्रुप ऑफ कॉलेज के नाम से मेडिकल डिग्री कॉलेज भी खोला हुआ है जो कि बीफार्मा, बीए, बीएससी, आदि के कोर्स संचालित करता है। यह भी जानकारी हुई कि इमलाख बाबा ग्रुप ऑफ कॉलेज, मुजफ्फरनगर का स्वामी है एवं इसके विरुद्ध फर्जी डिग्री दिलवाने के कई आपराधिक मामले दर्ज हैं, इसे यूपी का सबसे बड़ा शिक्षा माफिया कहा जाता है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर उपरोक्त इमलाख के विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट के अन्तर्गत कार्यवाही करते हुए इसके द्वारा अवैध रूप से अर्जित की गयी सम्पत्ति को कुर्क करने की कार्यवाही की जाएगी।

Related Articles