रूद्रप्रयाग

जिले की सभी सड़कों को 14 नवंबर तक गड्ढा मुक्त करने के लिए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने दिये निर्देश

एनएच, लोनिवि, पीएमजीएसवाई के अधिकारियों की ली बैठक।

नाम, पदनाम, संपर्क सूत्र :
निर्भय सिंह, अधि. अभियंता एनएच, 8126882577
जीत सिंह रावत, अधि अभियंता लोनिवि रुद्रप्रयाग, 7895451603
मनोज भट्ट, अधि. अभियंता लोनिवि ऊखीमठ, 7078502892
कमल सिंह सजवाण, अधि. अभियंता पीएमजीएसवाई रुद्रप्रयाग, 9412056534
मनमोहन बिजल्वाण, अधि. अभियंता पीएमजीएसवाई जखोली, 7251999481.

रुद्रप्रयाग। जनपद की सभी सड़कों को 14 नवंबर, 2022 तक गड्ढा मुक्त करने के लिए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने जिला कार्यालय कक्ष में एनएच, लोनिवि, पीएमजीएसवाई के अधिकारियों बैठक ली। बैठक में जिलाधिकारी ने सड़क से जुड़े सभी अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि उनके अधीन जो भी सड़कें हैं उन्हें गड्ढा मुक्त करने के लिए पैचवर्क का कार्य किया जाना है। ऐसी सभी सड़कों को प्राथमिकता से चिन्हित कर उनमें 14 नवंबर तक पैचवर्क करना सुनिश्चत करें, इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता एवं लापरवाही न बरती जाए।
जिलाधिकारी ने कहा कि मा मुख्यमंत्री की प्राथमिकता है कि आमजनमानस को आवाजाही में किसी प्रकार की असुविधा न हो एवं सड़क में गड्ढे होने से कोई दुर्घटना घटित न हो इसके लिए स्पष्ट निर्देश हैं कि सभी सड़कों को तत्परता के साथ गड्ढा मुक्त किया जाए ताकि आमजनमानस को आवाजाही में किसी प्रकार की कोई असुविधा न हो। जिलाधिकारी ने आम जनता से भी अपेक्षा की है कि यदि उनके क्षेत्र में सड़क में कहीं गड्ढे हैं तो वो संबंधित अधिशासी अभियंता को सड़क को तत्परता से गड्ढा मुक्त करने के लिए उनके दूरभाष नंबर पर अवगत करा सकते हैं।

जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि किसी भी क्षेत्र से उनके दूरभाष नंबर पर क्षेत्रीय जनता द्वारा सड़क मरम्मत के संबंध में कोई भी फोन आता है तो उसका तत्काल संज्ञान लेते हुए उसे शीर्ष प्राथमिकता से करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि यदि आम जनता की ओर से किसी अधिकारी द्वारा समय पर कार्य पूर्ण न करने की शिकायत जिला प्रशासन को मिलती है तो संबंधित अधिकारी के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी संबंधित अधिकारी की होगी।
जिलाधिकारी ने एनएच के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सड़क निर्माण कार्य से यातायात बाधित न हो इसके लिए यह जरूरी है कि रोड़ कटिंग से जो भी मलवा आ रहा है उसे तत्काल हटाकर डंपिंग जोन में निस्तारित करना सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि जनपद में रोड़ चौड़ीकरण के सर्वे में शामिल जमीन, घर समेत अन्य निर्माण कार्यों के प्रभावितों को तत्परता से मुआवजा उपलब्ध कराते हुए सड़क के कार्य शीर्ष प्राथमिकता से पूर्ण करना सुनिश्चित करें। यह भी निर्देश दिए कि सड़क किनारे जो भी अक्रिमण किए गए हैं, उन अतिक्रमणों को भी तत्काल हटाने की कार्यवाही अमल में लाई जाए। उन्होंने उप जिलाधिकारियों को भी निर्देश दिए हैं कि अपने क्षेत्रांतर्गत निरंतर सड़कों एवं वहां चल रहे कार्यों की माॅनिटरिंग करना सुनिश्चित करें। यदि किसी कार्यदायी संस्था एवं ठेकेदार द्वारा उचित कार्य नहीं किया जा रहा तो उनके विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।
इस अवसर पर अपर जिला अधिकारी दीपेंद्र सिंह नेगी, उप जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग अपर्णा ढौंडियाल, ऊखीमठ जितेंद्र वर्मा, अधि. अभियंता राष्ट्रीय राजमार्ग निर्भय सिंह, अधि. अभियंता लोनिवि रुद्रप्रयाग जीत सिंह रावत, ऊखीमठ मनोज भट्ट, अधि. अभियंता पीएमजीएसवाई रुद्रप्रयाग कमल सिंह सजवाण, जखोली मनमोहन बिज्लवाण सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *