ऊधमसिंह नगर

विधायक ने गनर के साथ हुई मारपीट व खुद के साथ हुई अभद्रता के विरोध में कोतवाली में दिया धरना

काशीपुर : जसपुर के विधायक ने बीते रोज गनर के साथ मारपीट व खुद के साथ हुए अभद्रता के मामले को लेकर मोर्चा खोल दिया है। मामले में उन्होंने एसएसपी ऊधमसिंह नगर के खिलाफ अपने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके हत्या की साजिश रची जा रही है।

शनिवार को विधायक अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ जसपुर कोतवाली पहुंचकर धरने पर बैठ गए। उन्होंने पुलिस प्रशासन पर जानबूझकर उनका गनर हटाने का आरोप लगाया गया। विधायक आदेश चौहान की ओर से दी गई तहरीर में कहा गया है कि शुक्रवार को को समय लगभग दिन के 9ः30 बजे अपने आवास गांव निवारमण्ड़ी पर थे। तभी अवनीश कुमार, मदन लाल, कृष्ण कुमार निवासीगण पंण्डित पूर्णानन्द तिवारी इंण्टर कॉलिज के पास उनके आवास में घुस आये। आते ही कहने लगे कि तुम हमारे खिलाफ एसडीएम बहुत शिकायत करते हो। शिकायत वापस लेने का दबाव बनाने लगे। उन्होंने कहा की वह आम जनता के साथ हैं। दबाव में नही आएंगे। इस पर तीनो लोग आग बबूला हो गये। कहने लगे हम तुम्हे सबक सिखाकर ही रहेंगे। गाली देते हुये कहने लगे कि तुम हमारा ब्याज का काम रुकवाना चाहते हो। शोर सुनकर मौके पर सरदार सुखदेव सिंह, उनका गनर प्रयाग सिंह अन्य लोग मौके पर आ गये। तीनो ने हमला कर उनके गनर की वर्दी फाड़ दी।मामले में विधायक की तरफ से शुक्रवार को देर शाम प्रशासन की तरफ से भेजे गए गए गनर को लेने से इंकार कर दिया। मामले में एसपी काशीपुर चंद्रमोहन सिंह का कहना है कि मामले में गनर के बयान और जांच के लिए उसे कोतवाली बुलाया गया था, जबकि उसके जगह पर उनके सुरक्षा के लिए दूसरा गनर भेज दिया गया लेकिन उन्होंने गनर लेने से मना कर दिया।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.