रूद्रप्रयाग

रुद्रप्रयाग तहसील के समीप हाईवे पर पहाड़ी दरकने से हो रही फजीहत

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ हाईवे पर पहाड़ी दरकने पर लोगों को फजीहत का सामना करना पड़ रहा है। लोगों को घंटों तक जाम लग रहा है। इसका असर चारधाम यात्रा पर भी पड़ रहा है। कई दोपहिया वाहन चालक जान जोखिम में डालकर आवाजाही कर रहे हैं। ऐसा ही नजारा केदारनाथ हाईवे पर रुद्रप्रयाग तहसील के पास देखने को मिला। यहां पहाड़ी से भारी मात्रा में बोल्डर हाईवे पर गिर गए। लेकिन दोपहिया वाहन चालकों को इतनी जल्दी थी कि वो हाथ से ही बोल्डर किनारे करने लगे और टूटी हुई चट्टान के बीच से अ।ने वाहनों को निकालकर चलते बने।
सावना का महीना खत्म होने के साथ ही अब पहाड़ों में अब धीरे-धीरे बारिश का दौर थम रहा है। लेकिन पहाड़ियों के टूटने का सिलसिला जारी है। बरसात में कच्ची हो चुकी पहाड़ियां इन दिनों बिना बारिश के ही दरक रही हैं। खासकर केदारनाथ हाईवे पर जगह-जगह बने स्लाइडिंग जोन पर लगातार भूस्खलन हो रहा है। इस कारण केदारनाथ यात्रा भी प्रभावित हो रही है और यात्रियों को घंटों तक इंतजार करना पड़ रहा है। भूस्खलन वाले स्थानों पर हाईवे पर सफर करने वाले स्थानीय लोग और तीर्थ यात्री लापरवाही भी दिखा रहे हैं। भूस्खलन वाले स्थानों पर पहाड़ी से टूटी हुई चट्टानों के बीच ही लोग आवाजाही कर रहे हैं। ऐसे चट्टानों के बीच से आवाजाही करना खतरनाक साबित हो सकता है। रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय से पांच किमी की दूरी पर भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला। यहां चट्टान टूटने के कारण हाईवे बंद हो गया और दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। इससे बेपरवाह कुछ दोपहिया वाहन सवार लोगों को इतनी जल्दी थी कि उन्होंने हाईवे खुलने का इंतजार नहीं किया और जान जोखिम में डालते हुए किसी तरह से टूटी हुई चट्टान के बीच से अपने वाहन निकालते रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.