पौड़ी गढ़वाल

विधानसभा अध्यक्ष ने ली स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक

स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर करने के दिये आवश्यक निर्देश

कोटद्वार। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी ने मंगलवार अपने विधानसभा क्षेत्र कोटद्वार के अंतर्गत स्थापित चिकित्सा इकाइयों में मानव संसाधन उपकरणों एवं इंफ्रास्ट्रक्चर की स्थिति की जानकारी के लिए स्वास्थ्य विभाग के उच्च अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष ने अस्पताल की व्यवस्थाओं एवं स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ बनाए जाने के लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश एवं जरूरी सुझाव दिए।
विधानसभा भवन देहरादून में आयोजित बैठक के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों से कोविड-19 वैक्सीनेशन एवं बूस्टर डोज के संबंध में भी जानकारी ली। विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि बेस हॉस्पिटल कोटद्वार में जल्द से जल्द विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ की तैनाती की जाए। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि कागजी कार्यवाही से अधिक धरातल पर काम किया जाए एवं दिए गए निर्देशों पर किसी भी प्रकार की लापरवाही ना बरतें।उन्होंने कहा कि कोई भी अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकता है, जनमानस को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ पहुंचाना प्राथमिकता में होना चाहिए। जिसके लिए अस्पतालों में चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, स्वास्थ्य उपकरण, दवाइयों समेत सभी मूलभूत सुविधाओं का व्यवस्थित होना आवश्यक है। स्वास्थ्य सेवा में औषधि, जांच, परीक्षण सेवा और ब्लड बैंक सहित अन्य के विकास पर फोकस किया जाए। स्वास्थ्य सुविधाओं को और मजबूती प्रदान करने के लिए निजी क्षेत्र का भी सहयोग लिया जाय।
इस बैठक के दौरान स्वास्थ्य महानिदेशक शैलजा भट्ट ने कोटद्वार बेस चिकित्सालय सहित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कलालघाटी, कालागढ़, झण्डीचौड़, मोटाढाक लालपानी एवं परिवार कल्याण उपकेन्द्र सिगड्डी, कलालघाटी, मोटाढाक, पदमपुर काशीरामपुर स्नेह, लालपानी, कालागढ़ में अवस्थित समस्त चिकित्सा इकाइयों में मानव संसाधन उपकरणों एवं इन्फास्ट्रक्चर का विवरण विधानसभा अध्यक्ष को दिया गय।अधिकारियों ने बताया कि चिकित्सक, पैरामेडिकल स्टाफ, चतुर्थ श्रेणी कार्मिकों की नियुक्ति हेतु प्रक्रिया गतिमान है। विधान सभा क्षेत्र कोटद्वार के अन्तर्गत अवस्थित चिकित्सा इकाइयों में मांग के आधार पर उपकरणों एवम औषधि की आपूर्ति की जा रही है तथा जिन उपकरणों की उपलब्धता जिला स्तर पर नहीं है उनकी उपलब्धता हेतु महानिदेशालय स्तर से का मांग पत्र प्रस्तुत किया जा रहा है।
वहीं, चिकित्सा इकाइयों में आवश्यकतानुसार नये भवनों के निर्माण एवं मरम्मत आदि कार्य हेतु आगणन तैयार किये जा चुके हैं। वर्तमान में 2 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टाइप बी, 3 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टाइप ए, 8 मातृत्व शिशु कल्याण उपकेन्द्र, 1 ट्रॉमा सेंटर, 3 विभागीय एम्बुलेंस, 2 एम्बुलेंस, तीन हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर लालपानी, मोटाढाक, सिगड्डी में संचालित हो रहे हैं।
बैठक के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने बेस हॉस्पिटल कोटद्वार में खराब पड़ी लिथोट्रिप्सी मशीन के बारे में जानकारी ली। उन्होंने बिना चीरफाड़ के किडनी की पथरी के इलाज के लिए प्रयोग होनी वाली लिथोट्रिप्सी मशीन को शीघ्र ठीक कराने के निर्देश दिए। वहीं, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के भवनों के सुधारीकरण के लिए विधानसभा अध्यक्ष ने अपनी विधायक निधि से धनराशि देने की बात कही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.