उत्तराखंड

सीडीओ ने बैंकों को किया निर्देशित स्वरोजगार सम्बन्धी आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही करें

मुख्य विकास अधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्वरोजगार हेतु आ रहे आवेदनों की भली-भांति जांच कर आवेदकों को योजना से लाभान्वित करें।

रुद्रप्रयाग।  जनपद के बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय स्क्रीनिंग समिति द्वारा वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना में वाहन मद में प्राप्त 03 आवेदनों को स्वीकृत करते हुए 27 लाख 86 हजार व गैर वाहन मद में प्राप्त 02 आवेदनों को स्वीकृत किया गया तथा दीन दयाल उपाध्याय गृह आवास होम स्टे योजना के अंतर्गत 03 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिनका स्थलीय निरीक्षण कर सत्यापन के निर्देश दिए गए।
मुख्य विकास अधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्वरोजगार हेतु आ रहे आवेदनों की भली-भांति जांच कर आवेदकों को योजना से लाभान्वित करें। उन्होंने लीड़ बैंक अधिकारी को निर्देश दिए कि वे सभी बैंक प्रबंधकों से स्वयं संपर्क कर विभिन्न बैंकों को भेजे जा रहे आवेदन पत्रों को समय से निस्तारित कराना सुनिश्चित करें, ताकि बेरोजगारों को सरकारी योजनाओं से जोड़कर लाभान्वित किया जा सके।
उन्होंने होटल, रेस्टोरेंट के अभ्यर्थियों से कहा कि होटल-रेस्टोरेंट में पर्यटकों के वाहन पार्किंग एवं शौचालय की व्यवस्था की जाए, ताकि अधिक से अधिक पर्यटक उनमें रुक सकें। उन्होंने होटल, रेस्टोरेंट के साथ ही होम स्टे को पारम्परिक शैली से बनाने व उनमें पारम्परिक भोजन परोसने का सुझाव दिया। इस दौरान उन्होंने वीर चंद्र सिंह गढ़वाली स्वरोजगार योजना में वाहन मद के साक्षात्कार में संबंधित आवेदको से वाहन, व्यवसायिक व कार्यक्षेत्र के बारे में संपूर्ण जानकारी भी ली। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ना सरकार की प्राथमिकता है, इसलिए स्वरोजगार इच्छुक लोगों को विभिन्न योजना के तहत अधिक से अधिक स्वरोजगार मुहैया कराने के निर्देश अधिकारियों एवं बैंकर्स को दिए।
बैठक में महाप्रबंधक उद्योग एच.सी. हटवाल, लीड बैंक अधिकारी धन सिंह डुंगरियाल, परिवहन विभाग व पर्यटन विभाग के सहायकों सहित संबंधित अभ्यर्थी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.