हरिद्वार

चारधाम यात्रा के चलते हरिद्वार में जाम,फ्लाईओवर निर्माण रोकने की मांग

हरिद्वार। चारधाम यात्रा 2022 अपने पूरे चरम पर है। ऐसे में हरिद्वार में यात्रियों का सैलाब देखने को मिल रहा है। लेकिन चारधाम यात्रा के प्रवेश द्वार हरिद्वार में ही यात्रियों को जाम की समस्या से जूझना पड़ रहा है। इसका प्रमुख कारण राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा हाल ही में शुरू किया गया गया फ्लाईओवर का निर्माण कार्य है।
वैसे तो इस फ्लाईओवर को बीते साल कुंभ से पहले बनकर तैयार होना था। किन्हीं कारणों से इस काम को रोक दिया गया था। अब जब चारधाम यात्रा शुरू है और सड़कों पर वाहनों का रेला है, तो इस पुल का निर्माण कार्य दोबारा शुरू किया गया है। इसने न केवल बाहर से आने वाले यात्रियों को परेशान कर दिया है, बल्कि इस निर्माण कार्य से स्थानीय व्यापारी भी खासे परेशान हैं। करीब आधा किलोमीटर के फेज को पार करने में वाहनों को 2 से 3 घंटे का समय  लग रहा है। यहां पर जाम लगने के कारण कई बार हरिद्वार शहर में भी हाईवे पर जाम की स्थिति घंटों बनी रहती है। हरिद्वार के व्यापारियों का कहना है कि हरिद्वार को चारधाम यात्रा का प्रवेश द्वार माना जाता है। चारधाम यात्रा पर जाने वाले यात्रियों को हरिद्वार में ही घंटों जाम से जूझना पड़ रहा है। हरिद्वार में दूधाधारी चौक से शांतिकुंज तक निर्माणाधीन फ्लाईओवर जाम की मुख्य वजह बन गया है। एक ओर जहां यात्री परेशानी झेल रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर स्थानीय व्यापारी भी फ्लाईओवर के निर्माण पर सवाल खड़े कर रहे हैं। बता दें, देहरादून और मुजफ्फरनगर के बीच बनाया जा रहा हाईवे 10 साल से ज्यादा का समय से बन रहा है। लेकिन इस एनएच-58 का काम अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। यह हाल तब हैं जब इन सालों में हरिद्वार में दो महाकुंभ और एक अर्ध कुंभ का आयोजन हो चुका है। इन आयोजनों में करोड़ों रुपए खर्च हो चुके हैं। अब चारधाम यात्रा यात्रा सीजन में इस फ्लाईओवर का निर्माण कार्य शुरू किए जाने से अब हरिद्वार का व्यापारी खासा नाराज हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.