उत्तराखंड

जिलाधिकारी ने यात्रा पड़ावों में व्यवस्थाओं को सुचारू रखने के सम्बंधित विभागों को दिए निर्देश,

जल संस्थान कर रहा यात्रा पड़ावों में पेयजल की समुचित व्यवस्था

रुद्रप्रयाग।  श्री केदारनाथ धाम में दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को पेयजल की किसी प्रकार की कोई किल्लत एवं परेशानी न हो इसके लिए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा अधिशासी अभियंता जल संस्थान को यात्रा मार्ग व केदारनाथ धाम में नियमित रूप से पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए हैं।
अधिशासी अभियंता जल-संस्थान संजय सिंह ने अवगत कराया है कि जिलाधिकारी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुपालन में श्री केदारनाथ धाम में आने वाले तीर्थ यात्रियों को पेयजल की कोई परेशानी न हो इसके लिए यात्रा मार्ग सहित केदारनाथ धाम में पेयजल की समुचित व्यवस्था की गई है। उन्होंने जानकारी देते हुए अवगत कराया कि सोनप्रयाग से श्री केदारनाथ धाम तक कुल 62 नग पिल्लर टाईप स्टैंड पोस्ट, 07 नग वाटर ए.टी.एम. व 07 नग वाटर हीटर स्थापित किए गए हैं जो वर्तमान में सुचारू रूप से कार्य कर रहे हैं तथा सोनप्रयाग से श्री केदारनाथ धाम तक घोड़े-खच्चरों को पीने के पानी के लिए कुल 41 नग पशुचरहियां निर्मित की गई हैं जो वर्तमान में सुचारू ढंग से कार्य कर रहे हैं। इसके अतिरिक्त गौरीकुंड से श्री केदारनाथ धाम तक कुल 4 नग टैंक टाईप स्टैंड पोस्ट तथा रुद्रप्रयाग से गौरीकुंड तक कुल 60 नग हैंड पंप स्थापित हैं जो सुचारू कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी के निर्देशों का अनुपालन कराते हुए तीर्थ यात्रियों को पेयजल की कोई परेशानी न हो इसके लिए निरंतर विभागीय अधिकारियों द्वारा निरीक्षण किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.