उत्तराखंड

जिलाधिकारी के निर्देशन में चोपता में हुआ आयोजित तहसील दिवस, दर्ज हुई 64 शिकायत 22 शिकायतों का मौके पर ही निराकरण

रुद्रप्रयाग।  जिलाधिकारी मयूर दीक्षित के निर्देशन में मंगलवार को राजकीय इंटरमीडिएट काॅलेज चोपता में अपर जिलाधिकारी दीपेंद्र सिंह नेगी की अध्यक्षता में तहसील दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर क्षेत्र वासियों द्वारा 64 शिकायतें दर्ज की गई। जिनमें 22 शिकायतों का मौके पर निराकरण किया गया जबकि शेष शिकायतों के निस्तारण हेतु संबंधित विभाग को प्रेषित किया गया। इस अवसर पर केदारनाथ की विधायक श्रीमती शैला रानी रावत मौजूद रही।
आयोजित तहसील दिवस के अवसर पर लोदला के ग्रामीणों ने रुद्रप्रयाग पोखरी मोटर मार्ग के बर्सिल तोक से लोदला तक मोटर मार्ग निर्माण की मांग की। चमस्वाड़ा की शकुंतला देवी ने आवासीय भवन हेतु आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए दिए जाने हेतु गड़सारी के ग्रामीणों ने सन बैंड-बज्यूण मोटर मार्ग से क्षतिग्रस्त पेयजल लाइन व पैदल मार्ग की मरम्मत कार्य करवाने की मांग की। क्यूड़ी के पूर्व प्रधान महेंद्र सिंह नेगी ने खड़पतियाखाल मोटर मार्ग पर आवश्यक कार्यवाही किए जाने को लेकर प्रार्थना-पत्र दिया।
इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि तहसील दिवस के अवसर पर जो भी शिकायतें एवं समस्याएं क्षेत्रीय जनता द्वारा दर्ज कराई गई हैं उन समस्याओं का निस्तारण शीघ्रता से शीघ्र करना सुनिश्चित करें ताकि सरकार का जो ध्येय है कि क्षेत्रीय जनता की समस्याओं का निराकरण क्षेत्र में ही हो इसके लिए समस्याओं का निदान करना जरूरी है। जिससे कि क्षेत्रीय जनता को अपनी समस्याओं के लिए जिला मुख्यालय न जाना पड़े। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से यह भी कहा कि सरकार द्वारा जो भी जन कल्याणकारी एवं रोजगार परक योजनाएं संचालित हो रही हैं उन योजनाओं का लाभ दूरस्थ क्षेत्र में रह रहे ग्रामीणों को उपलब्ध कराते हुए ताकि उनकी आर्थिकी को मजबूत किया जा सके।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी दीपेंद्र सिंह नेगी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि तहसील दिवस के अवसर पर जिस भी विभाग से संबंधित शिकायतें दर्ज कराई गई हैं उनका संबंधित अधिकारी समय सीमा के अंतर्गत निस्तारण करना सुनिश्चित करें। इसमें किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही न बरती जाए एवं जिन योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया जाना है उन योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण करते हुए उन्हें शीर्ष प्राथमिकता से उन पर कार्यवाही करना सुनिश्चित किया जाए तथा जिन समस्याओं का समाधान किया जा रहा है उसकी जानकारी संबंधित आवेदनकर्ता सहित जिला कार्यालय को भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। विकास परक योजनाओं को आम जन तक उपलब्ध कराने के लिए सभी अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए योजनाओं का लाभ क्षेत्र वासियों तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
इस दौरान उप जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग अपर्णा ढौंडियाल, परियोजना निदेशक रमेश चंद्र, मुख्य कृषि अधिकारी दीपक पुरोहित, जिला पंचायत राज अधिकारी आरएस असवाल, तहसीलदार मंजू राजपूत, सेवायोजन अधिकारी कपिल पांडेय, खंड विकास अधिकारी प्रवीण भट्ट, वीपीडीओ रजनी गुसांई, राजेश सहित संबंधित अधिकारी जन प्रतिनिधि व क्षेत्रवासी मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.