रूद्रप्रयाग

मुख्य सचिव पहुंचे केदारनाथ : धाम की तैयारियों का लिया जायजा

रुद्रप्रयाग। तीन मई को गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ ही उत्तराखंड की चारधाम यात्रा का पहला चरण शुरू हो चुका है। अब 6 मई को केदारनाथ धाम के कपाट खोले जाने हैं। केदारनाथ धाम के कपाट खुलने  की सभी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। बुधवार को मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधू भी तैयारियों का जायजा लेने केदारनाथ धाम  पहुंचे।
मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधू को केदारनाथ धाम में जो खामियां मिलीं, उनको दुरुस्त करने के लिए उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए। इसके अलावा मुख्य सचिव ने केदारनाथ धाम में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का भी निरीक्षण किया। मुख्य सचिव संधू ने यात्रा से जुडे़ विभागों को समय पर सभी तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिये। मुख्य सचिव ने मंदिर सहित आसपास के क्षेत्रों का गहनता से निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्य सचिव ने कार्यदायी संस्था के अधिकारियों को निर्देश दिए कि केदारपुरी में जो भी निर्माण कार्य किए जा रहे हैं, उन कार्यों की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। केदारनाथ धाम को तीर्थयात्रियों की सुविधाओं के हिसाब के विकसित करना है। मुख्य सचिव ने समय से कार्य पूरा करने के लिए श्रमिकों की संख्या बढ़ाने को भी कहा है। साथ ही उन्हें रहने व खाने की उचित व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव ने मंदाकिनी और सरस्वती नदी के दोनों ओर सुरक्षा के लिए उचित व्यवस्था करने के लिए सचिव पर्यटन और रुद्रप्रयाग जिलाधिकारी मयूर दीक्षित को निर्देशित किया है। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने मुख्य सचिव को केदारपुरी में चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी दी। साथ ही उन्होंने यात्रा व्यवस्थाओं की भी जानकारी दी। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने कहा कि कपाट खोलने को लेकर सभी तैयारियां की जा रही हैं। यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मिलें, इसके प्रयास किये गये हैं। यात्रा मार्गों पर रहने और खाने की उचित व्यवस्था कर ली गई हैं। उन्होंने कहा कि केदारनाथ आने वाले तीर्थयात्रियों को कोई भी समस्या नहीं होने दी जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.