उत्तराखंडरूद्रप्रयाग

बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चलविग्रह डोली पहुंची दूसरे पड़ाव फाटा।

बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चलविग्रह डोली पहुंची दूसरे पड़ाव फाटा।

रिपोर्ट/नितिन जमलोकी
फाटा। हिमालय की गोद मे विराजमान बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चलविग्रह उत्सव डोली आज रात्रि प्रवास को दूसरे पड़ाव फाटा पहुंची।
विगत सोमवार को बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चलविग्रह उत्सव डोली ओंकारेश्वर मन्दिर उखीमठ से प्रातः पूजा अर्चना के बाद विद्वान आचार्यों , स्थानीय जनता एवं मराठा रेजीमेंट के बैंड धुनों के साथ पहले पड़ाव विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी पहुंची। जहां से आज प्रातः 8 बजे पूजा अर्चना के पश्चात बाबा केदारनाथ की पंचमुखी चलविग्रह उत्सव डोली भक्तों के जयकारों एवं आर्मी की बैंड धुनों के साथ दूसरे पड़ाव फाटा के लिए निकल पड़ी। चारों ओर केदारघाटी का वातावरण बाबा के जयकारों से भक्तिमय हो गया। बाबा की पंचमुखी चलविग्रह डोली विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी से प्रस्थान कर नाला, नारायण कोटि, देविधार ,ब्यूग, मैखण्डा होते हुए, फाटा पहुंची जहां पर ग्रामीणों ,व्यपारियों एवं सम्पूर्ण देश – विदेश से पहुंचे भक्तों ने बाबा की पंचमुखी चलविग्रह डोली का स्वागत किया। होटल एशोसिएशन केदारघाटी की ओर से सभी भक्तों के लिए विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। साथ ही रात्रि में पंच केदार सांस्कृतिक मंच द्वारा भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा।बुधवार को प्रातः बाबा की पंचमुखी चलविग्रह डोली तीसरे पड़ाव गौरीकुण्ड के लिए प्रस्थान करेगी। इस मौके पर मुख्य पुजारी केदारनाथ टी गंगाधर लिंग,मन्दिर समिति डोली प्रबधंक प्रदीप सेमवाल ,थानाध्यक्ष गुप्तकाशी अजय जाटव, पूर्व राज्यमंत्री अशोक खत्री, होटल एशोसिएशन अध्यक्ष प्रेम गोस्वामी , उपाध्यक्ष प्रमोद नौटियाल, रघुवीर पुष्पाण, राजकुमार तिवारी, विजय जमलोकी, जगत सिंह रमोला, धर्मेश नौटियाल, देवेंद्र सेमवाल सहित मराठा रेजीमेंट की बैंड पार्टी एवं स्थानीय ग्रामीण मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.