उत्तरकाशी

अक्षय तृतीया पर्व पर खुले गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट, पीएम मोदी के नाम से हुई पहली पूजा

 

उत्तरकाशी – अक्षय तृतीया पर्व पर मंगलवार से चारधाम यात्रा की शुरुआत हो गई। गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट आगामी छह माह के लिए खोल दिए गए हैं।

गंगोत्री धाम के कपाट मंगलवार को 11.15 बजे देश-विदेश के श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं। कपाट उद्घाटन के अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी शामिल हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से पहली पूजा हुई है। जिसमें मुख्यमंत्री ने पूजा की। वहीं यमुनोत्री धाम के कपाट दोपहर 12.15 बजे विधिविधान के साथ खोल दिए गए हैं।कपाटोद्घाटन के लिए गंगोत्री और यमुनोत्री धाम की फूलों से भव्य सजावट की गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी तीन मई को हर्षिल हेलीपैड पहुंचे। इसके बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कार से गंगोत्री धाम पहुंचे और कपाटोद्घाटन में प्रतिभाग किया। वहीं चारधाम यात्रा को लेकर तीन दिन पहले शासन की ओर से यात्रियों की संख्या निर्धारण के आदेश के मामले में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि यात्रा को लेकर कोई संख्या निर्धारित नहीं की गई है। अगर यात्री अधिक संख्या में आते हैं तो उसके बाद कोई निर्णय लिया जाएगा। इससे पूर्व मंगलवार सुबह 6.30 बजे डोली गंगोत्री के लिए रवाना हुई और सुबह ठीक 11.15 बजे गंगोत्री धाम के कपाट खोल दिए गए। मां यमुना की डोली मंगलवार सुबह शीतकालीन पड़ाव खरसाली से रवाना हुई और दोपहर 12.15 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट खोले गए। वहीं इसके बाद केदारनाथ धाम के कपाट छह मई को खोले जाएंगे। जबकि, बदरीनाथ धाम के कपाट आठ मई को खोले जाएंगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.