उत्तराखंडरूद्रप्रयाग

राजस्थान के करोली से गुम बालक को गौरीकुंड में चैकिंग के दौरान बरामद किया गया।

पढ़ाई के प्रेशर से परेशान छात्र घर से बिना बताए एकांतवास की तलाश में गौरीकुंड पहुंचा।

गुप्तकाशी। केदारनाथ धाम यात्रा के अंतिम पड़ाव गौरीकुंड में सत्यापन चैकिंग के दौरान पुलिस ने करोली राजस्थान निवासी बालक की सकुशल बरामदगी की गयी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार, 25 अप्रैल को चौकी गौरीकुंड द्वारा विकाश कुमार मीणा उर्फ विकेश उम्र 21वर्ष पुत्र श्री व्रज लाल मीणा निवासी ग्राम गुलाब पुरा पो0 इनायती थाना सपोटा जिला करोली राजस्थान जो की झोटवाड़ा जिला पश्चिम जयपुर में आदर्श विद्या मंदिर कॉलेज में बीएससी तृतीय वर्ष का छात्र है। पढ़ाई के प्रेशर और घर वालो का पढ़ाई पर जोर देने कहने के कारण परेशान होकर मन मे एकांत जीवन व्यतीत करने की इच्छा जागृत हुई और अपने घर से 25 मार्च 2022 को बिना घरवालों को सूचित किये केदारनाथ धाम के लिए निकल पड़ा। केदारनाथ धाम के कपाट खुलने तक गौरीकुंड में साधु महात्माओं के साथ जीवन व्यतीत करने लगा।
 गौरीकुंड चौकी प्रभारी सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि बाजार में सत्यापन एवं ऑपरेशन मर्यादा चैकिंग के दौरान राजस्थान निवासी बालक की बरामदगी की गई,, गहनता से पूछ ताछ करने के पश्चात बालक ने पढ़ाई का प्रेसर होने पर यह कदम उठाया बताया, साथ ही यह भी कहा कि उसका पता कोई न कर सके इसलिए उसने अपना मोबाइल ऋषिकेश में गंगा नदी में फेंक दिया और पैदल चलकर 15 दिनों की यात्रा कर गौरीकुंड पहुंचा है। बालक की बरामदगी का0 जयप्रकाश चौहान का0 कमलेश सजवाण द्वारा सत्यापन चेकिंग के दौरान की गयी।

विकाश कुमार के भाई को फोन कर सूचित किया गया जिसके द्वारा बताया गया कि उन्होंने झोटवाड़ा थाना में गुमसुदगी दर्ज करवाई है। जिन्हें उक्त विकाश के संबंध में पूर्ण जानकारी देकर सूचित किया गया।
प्रभारी चौकी गौरीकुंड ने बताया कि राजस्थान झोटवाड़ा थाने से संपर्क कर उक्त गुमसुदा की गुमसुदगी दर्ज होना बताया गया। विवेचक हेड कांस्टेबल लेखराम यादव को संपर्क कर बरामदगी के संबंध में पूर्ण जानकारी दी गयी, उनके द्वारा जल्द ही उपरोक्त गुमसुदा को लेने सोनप्रयाग आने हेतु बताया गया।
विकास के बरामद हो जाने की सूचना मिलते ही विकास के घरवालों ने गौरीकुंड पुलिस का आभार प्रकट किया। बरामद बालक को भोजन और वस्त्र देकर थाना सोनप्रयाग ले जाया गया, जल्द ही राजस्थान पुलिस व उनके घरवालों के सुपुर्द बालक को किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.