उत्तराखंड

चुन्नी गांव के ग्रामीणों के साथ यूजीवीएनएल की वार्ता रही विफल ग्रामीणों का आन्दोलन जारी

रुद्रप्रयाग।  विकासखण्ड ऊखीमठ के मदमहेश्वर घाटी में 15 मेगावाट मधुगंगा जल विद्युत परियोजना का निर्माण कार्य कर रहे उत्तराखण्ड जल विद्युत निगम के खिलाफ चुन्नी गाँव के ग्रामीणो का एक सूत्रीय मांग को लेकर चल रहा क्रमिक अनशन तीसरे दिन भी जारी रहा।

अनशन स्थल पर केदारनाथ विधायक श्रीमती शैलारानी रावत के निर्देश पर तहसील प्रशासन, पुलिस प्रशासन तथा उत्तराखण्ड जल विद्युत निगम के अधिकारी ग्रामीणों से वार्ता करने पहुंचे मगर वार्ता विफल रही। मंगलवार को भी ग्रामीणों का आन्दोलन जारी रहेगा।

बता दें कि, चुन्नी गाँव के ग्रामीण नौ अप्रैल से मधु गंगा जल विद्युत परियोजना के फोरवे टैंक के निकट पहुंचे तथा अनिश्चित कालीन क्रमिक अनशन शुरू किया। ग्रामीणों ने 15 मेगावाट जल विद्युत परियोजना का निर्माण कार्य कर रहे उत्तराखण्ड जल विधुत निगम पर ग्रामीणों के साथ वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए क्रमिक अनशन शुरू किया था। ग्रामीणों का कहना कि मधु गंगा जल विद्युत परियोजना का निर्माण कार्य शुरू होने से पूर्व उत्तराखण्ड जल विद्युत निगम के अधिकारियों ने ग्रामीणों को फोरवे टैंक से दो इंच सिचाई पेयजल लाइन देने का वादा किया था मगर आज उत्तराखण्ड जल विद्युत निगम के अधिकारी फोरवे टैंक से दो इंच सिचाई पेयजल लाइन देने से मुखर रहे है जो कि ग्रामीणों ने साथ धोखा है।
सोमवार को केदारनाथ विधायक श्रीमती शैलारानी रावत क्रमिक अनशन स्थल पर पहुंचीं तथा ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए कहा कि ग्रामीणों के अधिकारों की अनदेखी नहीं होगी तथा शीध्र समस्या का समाधान किया जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.