उत्तराखंड

श्री केदार हेली सेवा सगठन ने दिया जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन

स्थानीय कार्यरत युवाओं का आरोप,  हेली कम्पनियां नही दे रही न्यूनतम वेतनमान आयोग के अनुसार वेतन

रुद्रप्रयाग।  श्री केदारनाथ धाम यात्रा में संचालित हेली कम्पनियों पर स्थानीय कार्यरत युवाओं ने उचित वेतनमान न दिए जाने का आरोप लगाया है।
शुक्रवार को श्री केदार हेली सेवा संगठन के पदाधिकारियों का प्रतिनिधि मंडल अपनी समस्याओं लेकर जिलाधिकारी मनुज गोयल के सम्मुख गया। सगठन ने जिलाधिकारी के माध्यम से मनन्नीय मुख्यमंत्री के लिए ज्ञापन दिया गया।
सगठन के युवाओं द्वारा हेली कम्पनियों पर स्थानीय युवाओं की उपेक्षा करने का आरोप लगाया गया है, हेली कम्पनियों द्वारा कर्मचारियों की कार्य करने की अवधि सुनिश्चित न हो पाने से उन्हें कार्य का उचित वेतनमान नही दिया जाता है, उन्होंने बताया कि स्थानीय कर्मचारियों का किसी भी हेली कम्पनी द्वारा जीवन व स्वास्थ्य बीमा नहीं किया जाता है।कम्पनियों द्वारा कर्मचारियों की स्वास्थ्य सम्बन्धी जांच  कभी नही की जाती है, साथ ही बेस पर कम कर्मचारी रख कर कार्यरत कर्मचारियों से अधिक कार्य करवाना। सगठन के सभी सदस्यों द्वारा हेली कम्पनियों से न्यूनतम वेतमान आयोग के अनुसार वेतमान दिए जाने की मांग की है।
सगठन के पदाधिकारियों के द्वारा केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत एवं हेली नोडल अधिकारी सुशील नौटियाल को भी अपनी समस्याओं का ज्ञापन दिया गया।
सभी ने स्थानीय युवाओं को आश्वासन दिया कि जल्द ही हेली कम्पनियों से इस संदर्भ में वार्ता की जाएगी।
ज्ञापन प्रस्तुत करने में श्री केदार हेली सेवा संगठन के अध्यक्ष प्रदीप शुक्ला, सचिव मोहन नौटियाल, प्रदीप बगवाड़ी, आशीष गैरोला इत्यादि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.