उत्तराखंड

वरिष्ठ फोटोजर्नलिस्ट हरीश भट्ट ने तोता घाटी को लेकर परिवहन मंत्रालय से किया निवेदन

देहरादून- विगत कुछ दिन पूर्व सोशल मीडिया पर तोता घाटी के कुछ फोटो काफी चर्चित चल रहे हैं आपको बता दें कि परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय  श्री नितिन गडकरी द्वारा अपने ट्विटर हैंडल से इन फोटो को साझा किया गया व उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा भी इन फोटो को अपने ऑफिशियल पेज द्वारा जारी किया गया था।

आपको बता दें कुछ दिन पूर्व  उत्तराखंड के एक वरिष्ठ फोटोजर्नलिस्ट श्री हरीश भट्ट जी द्वारा तोता घाटी के समीप एक खड़ी चट्टान पर बिना किसी सहारे के यह फोटो क्लिक की गई थी और उनके द्वारा यह फोटो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपलोड की गई थी उनकी फोटो का जलवा कहे या उनके हाथों का जलवा परिवहन मंत्री श्री नितिन गडकरी द्वारा अपने ट्विटर हैंडल पर इनकी यह फ़ोटो शेयर की गई । साथ ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री धामी जी द्वारा भी अपने सोशल अकाउंट पर इन फोटो का प्रयोग किया गया।

हरीश भट्ट जी का सोशल मीडिया पर जारी निवेदन

आदरणीय और साथ में पूजनीय भी अपने कार्यों के आधार पर श्री नितिन गडकरी जी परिवहन एवम राष्ट्रीय राज मार्ग मंत्रालय भारत सरकार ….
महोदय आपके व आपके मंत्रालय द्वारा दिनांक 18 मार्च 2022 को मेरे द्वारा क्लिक राष्ट्रीय मार्ग तोता घाटी की कुछ तस्वीरों को आपने अपने ट्विटर पर साझा की थी और उन तस्वीरों से मुझे भी लोगों ने एक फोटो ग्राफर के रूप में जाना इसके लिए ह्रदय की अनंत गहराइयों से आप का धन्यवाद ….
महोदय अब आगे का विषय यह है कि यह तोता घाटी आपके अथक प्रयास और मजबूत इच्छा शक्ति के कारण बहुत ही सुंदर सुगम सरल सुरक्षित लगने लगी हे ।


महोदय इस तोता घाटी का एक अपना इतिहास भी है जिस वजह से इस दुर्लभ घाटी का नाम तोता घाटी रखा गया है । सन 1931से 1935 के बीच ठेकेदार श्री तोता सिंह रांगड ( लाट साहब) टेहरी गढ़वाल वालों ने अपनी धर्म पत्नी के जेवर बेच कर व अपनी ठेकेदारी में नुकसान उठा कर इस सड़क को अपने मजदूरों के बल पर पूरा किया जो की उस समय बिना किसी भी आधुनिक मसीनों एक चुनौती पूर्ण कार्य था ।
महोदय उत्तराखण्ड की समस्त जनता की और से आग्रह विनम्र निवेदन हे कि इस जगह पर श्री तोता सिंह जी की आदम कद मूर्ति लगाने के साथ इसके उच्च शिखर पर एक हनुमान जी की मूर्ति भी लगवाई जाए , जिससे इस मार्ग हुई अनेकों अनेक सड़क दुर्घनाओं में अपने प्राण देने वालों की आत्मा को भी हम सांत्वना दे सकें ….
महोदय एक प्रकृति फोटोग्राफर होने की वजह मुझे जो इस स्थान पर जो दृश्य दिखते हैं वो अपने में स्वयं आनंद की अनुभूति करवाते हैं अतः महोदय इस स्थान को एक पर्यटक स्थल के रूप में भी विकसित होने की आशा ही नहीं विस्वास भी करता हूं …!
आपका आभारी
उत्तराखण्ड की जनता के साथ
हरीश भट्ट ( मुख्य पुजारी श्री रुद्रनाथ जी )
ग्राम गोपेश्वर जिला चमोली उत्तरखण्ड
इस लेख में किसी भी प्रकार की कोई त्रुटि रही हो तो अपने अल्प ज्ञान की वजह से क्षमा प्रार्थी के साथ इस पोस्ट को आपके द्वारा साझा करने की आशा रखता हूं…..!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.