उत्तराखंडरूद्रप्रयाग

केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर गुप्तकाशी से ऊपर बने कई डेंजर जोन, डेंजर जोनों पर नही लगाये गए क्रैश बैरियर।

बिना क्रैश बैरियर हमेशा खतरे का सबब बना मोटर मार्ग

कटिंग का अधूरा कार्य छोड़, कर दिया डामरीकरण

केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग के डेंजर जोनों पर नही लगाये गए क्रैश बेरियर।

फाटा। केदारनाथ यात्रा की तैयारियों को लेकर प्रशासन ने राष्ट्रीय राजमार्ग 107 के विभिन्न स्थानों पर चल रहे रोड कटिंग कार्य को रोककर डामरीकरण तो किया गया है लेकिन कतिपय डेंजर जोनों पर क्रैश बैरियर न लगने के कारण मार्ग जानलेवा बने हुए हैं।


बता दें कि ब्यूगाड़ पुलिया से फाटा की दिशा में लगभग दो सौ मीटर पर क्रैश बैरियर न लगने से एव मार्ग संकीर्ण होने के साथ-साथ यात्रा काल के दृष्टिगत मोटर मार्ग जानलेवा बना हुआ है। उस स्थान पर कार्यदायी संस्था आरजीबी द्वारा बिना कटिंग कार्य किए डामरीकरण किया गया है। ब्यूगाड पुलिया तक कटिंग एवम चौड़ीकरण का कार्य पूर्ण किया गया है लेकिन इस से आगे लगभग पांच सौ मीटर तक खड़ी मजबूत चट्टानें हैं। इस पांच सौ मीटर के क्षेत्र पर न ही मोटर मार्ग चौड़ीकरण किया गया और न ही क्रैश बैरियर लगाए गए हैं।
साथ ही फाटा से आगे चंडिका धार पर भी क्रेश बैरियर न होने से सदैव खतरे का भय बना रहता है।


राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग की सहायक अभियंता वंदिता शुक्ला ने बताया कि इस पांच सौ मीटर मार्ग पर अभी कटिंग की स्वीकृति नही है, कतिपय कारणों से सुप्रीम कोर्ट द्वारा कटिंग पर रोक लगा दी गयी है। उन्होंने बताया कि यात्राकाल को सुचारू रखने के लिए इस संवेदनशील मोटर मार्ग पर डीबीएम किया गया है। यात्रा समाप्ति के बाद छूटे हुए मार्ग पर चौड़ीकरण का कार्य प्रारम्भ होगा। साथ ही डेंजर जोन वाले स्थानों पर यात्रा से पूर्व क्रैश बैरियर लगा दिए जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.