देहरादून

बिष्ट ने उत्तराखंड पावर कॉरपोरेशन पर लगाए आरोप

133 जूनियर इंजीनियर की भर्ती का मामला

देहरादून- आज उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष युवा प्रकोष्ठ राजेंद्र सिंह बिष्ट ने उत्तराखंड पॉवर कार्पोरेशन लिमिटेड पर आरोप लगाते हुए बताया कि यूपीसीएल में जूनियर इंजीनियर के 133 पदों की अपरेंटिस हेतु 24 मार्च को साक्षात्कार होना है, जबकि यह समुह ग के अंतर्गत आने के कारण लिखित परीक्षा के माध्यम से चयन किया जाना चाहिए, इस प्रकार से चयन की प्रक्रिया अनुचित है, एवं साथ ही यूपीसीएल ने जिस संस्थान को साक्षात्कार की जिम्मेदारी दी है वह भी उत्तराखंड से बाहर का संस्थान है, जिसका सीधा अर्थ है कि राज्य के युवाओं के अधिकारों पर डाका डालकर बाहरी राज्यों के युवाओं को इस पद पर बिठाना, जबकि उत्तराखंड में प्राविधिक शिक्षा पारिषद रुड़की, उत्तराखंड तकनीकी विश्विद्यालय एवं गोविंद बल्लभ पंत कृषि विश्वविद्यालय सहित अनेकों संस्थान इस प्रकार की परीक्षाओं को कराते है, उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि विभाग इस प्रकार के कार्य भाई भतीजावाद को बढ़ावा देने के लिए कर रहा है, अगर इस प्रकार से ही बाहरी संस्थानों को उत्तराखंड के युवाओं का भविष्य बर्बाद करने के लिए यहां पर प्रस्तावित किया जाएगा तो उत्तराखंड क्रांति दल उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगा, साथ ही उन्होंने ऋषिकेश एम्स का उदाहरण भी दिया कि किस प्रकार से वहाँ पर राजस्थान के सैकड़ों युवाओं को बाहरी संस्थान द्वारा रोजगार दिया गया, जो कि प्रदेश के युवाओं के साथ धोखा है, उन्होंने कहा कि मंगलवार को उक्रांद युवा प्रकोष्ठ का ऊर्जा सचिव से मिल कर उपरोक्त अप्रेटिस परीक्षा राज्य की किसी संस्था से करवाने एवं इंटरव्यू के स्थान पर लिखित परीक्षा के आधार पर चयन किए जाने के सम्बन्ध में वार्ता की जाएगी!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.