उत्तराखंडचमोली

पुलिस की सक्रियता से मिला गुमशुदा बालक, परिजनो को मिला होली का सबसे बेहतरीन उपहार।

चमोली: गुमशुदा बेटे को खोजकर पुलिस ने परिजनों को दिया होली का सबसे बेहतरीन उपहार

जनपद चमोली निवासी महेन्द्र विष्ट ने गोपेश्वर थाने में आकर अपने पुत्र सोनू विष्ट (काल्पनिक नाम) उम्र-17 वर्ष की गुमशुदगी दर्ज की थी। जिसमें उनके द्धारा बताया गया कि उनका पुत्र बिना बताए कहीं चला गया है, जिसकी काफी खोजबीन के बाद भी वह मिल नही रहा है। परिजन इस बात से चिंतित थे कि कहीं कोई गलत कदम न उठा ले।

पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे के आदेशानुसार, एंव क्षेत्राधिकारी चमोली के निर्देशन में उपरोक्त गुमशुदा की तलाश हेतु पुलिस टीम गठित की गयी। गठित पुलिस टीम व सर्विलांस सैल चमोली को गुमशुदा की तलाश हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। पुलिस टीम ने सक्रियता दिखाते हुए पतारसी,सुरागरसी व सर्विलांस के माध्यम से गुमशुदा सोनू को मात्र 24 घंटे से पहले सकुशल बरामद कर लिया गया और सोनू को उसके माता-पिता को सुपुर्द कर दिया । अपने बच्चे को सकुशल वापस पाकर परिजनों द्धारा चमोली पुलिस का सह्रदय धन्यवाद किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.