उत्तराखंड

दस्तक परिवार की ओर से अगस्त्यमुनि क्रीड़ा मैदान में कल होगा फूलदेई महोत्सव का आयोजन।

रिपोर्ट/ नितिन जमलोकी

दस्तक परिवार की ओर से अगस्त्यमुनि क्रीड़ा मैदान में कल होगा फूलदेई महोत्सव का आयोजन।

रुद्रप्रयाग।  अगस्त्यमुनि के क्रीड़ा मैदान में रविवार को फूलदेई महोत्सव व घोघा जातरा प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा, जिसमे क्षेत्र के बच्चों की टोलियां अधिक संख्या में प्रतिभाग करेंगी। साथ ही आयोजन समिति ने बच्चों की अधिक से अधिक टोलियों को प्रतियोगिता में शामिल होने की अपील की है। वहीं जनपद में फुलदेई त्यौहार का सोमवार को बच्चों के अपने ग्राम स्तर पर सामूहिक भोज के साथ समापन होगा।

गत 14 मार्च से पूरे जनपद में फुलदेई उत्सव का बड़े धूमधाम से शुभारंभ हुआ था। सांयकाल में बच्चे बुरांस ,फ्यूंली ,पँया, समेत अनेक प्रकार के जंगली फूलों को एकत्रित करते हैं। जिसके बाद प्रातः प्रतिदिन की तरह गांव में प्रत्येक घरों की दहलीज़ पर फुलदेई के गीतों को गाकर चौखट पर फूल डालते हैं। सम्पूर्ण गांव का भ्रमण किया जाता है। आठ दिनों तक चले इस कार्य के आठवें दिन घोघा राजा की पूजा अर्चना कर तत्पश्चात खाद्य सामग्री एकत्र कर घोघा राजा को भोग लगाकर बच्चे सामूहिक भोजन करते हैं।


रविवार को दस्तक परिवार की ओर से फुलदेई महोत्सव का आयोजन किया गया है, जिनका उद्देश्य आने वाली नई पीढ़ी को अपनी माटी की पहचान व अपनी संस्कृति से रूबरू करवाने का प्रयास किया है। ताकि भविष्य में भी अपनी संस्कृति के त्योहारों को इसी प्रकार मनाया जा सके।
प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय,चतुर्थ व पंचम स्थान प्राप्त करने वाली टीमों को ट्रॉफी के साथ नगद राशि भी प्रदान की जायेगी।
महोत्सव में शिक्षा विभाग के अपर निदेशक महावीर सिंह बिष्ट, गढ़वाल विश्व विद्यालय के लोक संस्कृति एवं निष्पादक केन्द्र के प्रोफेसर डी आर पुरोहित, नगर पंचायत अध्यक्ष अरूणा बेंजवाल सहित विभिन्न क्षेत्रों के जनप्रतिनिधियों शामिल होगें तथा पौराणिक जागर गायिका रामेश्वरी देवी, दर्शनी देवी व कविता कैन्तुरा को समाजिक क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने हेतु दस्तक परिवार द्वारा सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.