उत्तराखंड

केदारनाथ यात्रा के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने दिए निर्देश सड़क निर्माणदायी विभागीय संस्थाएं बिना अनुमति न करें कार्य।

यात्रा के दौरान रोड कटिंग होने से नये स्लाइडिंग जोन उत्तपन्न होने का भय

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम यात्रा के दृष्टिगत जिलाधिकारी मनुज गोयल ने जनपद में कार्यरत सड़क निर्माण दायी विभागीय संस्थाओं को निर्देश देते हुए कहा कि यात्रा अवधि के दौरान रोड कटिंग, पैच मरम्मत इत्यादि कार्य प्रारंभ करने से पूर्व अनिवार्य रूप से अनुमति ली जाए। साथ ही कहा कि बिना अनुमति के मोटर मार्ग से संबंधित कार्य आरंभ करने पर संबंधित अधिशासी अभियंता/कार्यदायी संस्था का उत्तरदायित्व निर्धारित करते हुए दंडात्मक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
जिलाधिकारी ने विभागीय कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रायः समय-समय पर रोड़ कटिंग का कार्य, पैच मरम्मत इत्यादि कार्य किया जाता है, जिस कारण भू-स्खलन होने, स्लाइडिंग जोन उत्पन्न होने से लंबे समय तक मोटर मार्ग आवागमन हेतु बाधित रहते हैं। साथ ही वाहनों के आवागमन में काफी कठिनाइयां उत्पन्न होती हैं। उन्होंने कहा कि आगामी केदारनाथ यात्रा के दृष्टिगत उक्त अवधि में सभी कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिए गए हैं कि मोटर मार्गों से संबंधित किसी भी कार्य से पूर्व अनुमति लेनी आवश्यक है। ताकि यात्रा के सफल संचालन में अनावश्यक दिक्कतें न हों। साथ ही कहा कि यदि यात्रा मार्ग आदि मोटर मार्गों पर भविष्य में भू-स्खलन होने, स्लाइडिंग जोन विकसित होने पाए जाते हैं तो संबंधित कार्यदायी संस्था पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.