उत्तराखंडरूद्रप्रयाग

मतगणना के लिए तैनात कार्मिकों को मास्टर ट्रेनरों ने दिया प्रशिक्षण, रुद्रप्रयाग विधानसभा की काउंटिंग 14 राउंड व केदारनाथ विधानसभा की काउंटिंग 13 राउंड में होगी पूरी

डाकमत्रों की गणना के लिए तैनात किये 84 कार्मिक

रुद्रप्रयाग।  विधानसभा सामान्य निर्वाचन मतगणना को शांतिपूर्ण ढंग से सफलता पूर्वक संपादित कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी मनुज गोयल के निर्देशन में जिला कार्यालय सभा कक्ष में मतगणना हेतु तैनात किए गए माइक्रो आब्जर्वर, मतगणना पर्यवेक्षक तथा मतगणना सहायकों को तीन पालियों में मास्टर ट्रेनरों द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। इस अवसर पर दोनों विधान सभाओं के रिटर्निंग आफिसर भी मौजूद रहे।

प्रथम पाली में प्रीकाउंटिंग हेतु तैनात किए गए 48 कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया जिसमें विधान सभा केदारनाथ व रुद्रप्रयाग के लिए तैनात 20-20 कार्मिकों सहित 08 आरक्षित कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया तथा द्वितीय पाली में डाकमत्रों की गणना हेतु तैनात किए गए 84 कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें केदारनाथ विधान सभा हेतु 28 कार्मिक तैनात किए गए हैं जिसमें 07 माइक्रो आब्जर्वर, 07 मतगणना पर्यवेक्षक तथा 14 मतगणना सहायक शामिल हैं। जिसमें 08 कार्मिक आरक्षित हैं। इसी तरह रुद्रप्रयाग विधान सभा में भी 28 कार्मिकों सहित 08 कार्मिक रिजर्व में तैनात किए गए तथा तीसरी पाली में ईवीएम मशीनों की गणना के लिए तैनात किए गए 114 कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें दोनों विधान सभाओं के लिए 42-42 कार्मिक तैनात किए गए हैं जिसमें 14 माइक्रो आॅब्जर्वर, 14 मतगणना पर्यवेक्षक तथा 14 मतगणना सहायक शामिल हैं। तथा दोनों विधान सभाओं में 24 कार्मिकों को आरक्षित में रखा गया है तथा 06 रिटर्निंग आॅफिसर तैनात किए गए कार्मिकों को प्रशिक्षण उपलब्ध कराया गया। इस अवसर पर प्रशिक्षण दे रहे मास्टर ट्रेनर भास्करानंद पुरोहित, कपिल पाण्डे, किशन रावत द्वारा उपस्थित कार्मिकों को प्रीकाउंटिंग, डाक मतपत्रों एवं ईवीएम मशीनों की गणना के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी उपलब्ध कराई गई। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों एवं कार्मिकों से कहा कि आगामी 10 मार्च को विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 की होने वाली मतगणना के लिए जो जिम्मेदारी एवं दायित्व जिस अधिकारी एवं कार्मिक को दिए गए हैं वह अपने दायित्वों का निर्वहन बड़ी सावधानी एवं सतर्कता के साथ करें तथा उन्हें जो प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जा रहा है उसे गंभीरता से प्राप्त करें ताकि मतगणना के समय गलती की कोई गुंजाइश न रहे। उन्होंने कहा कि मतगणना हाॅल में संबंधित प्रत्याशियों के मतगणना अभिकर्ता भी उपस्थित रहेंगे जिन्हें राउंडवार ईवीएम मशीन द्वारा प्रदर्शित मतदान डिस्प्ले भी दिखाना तथा किस प्रत्याशी के पक्ष में कितने मत पड़े हैं उसे बोलकर भी बताना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि दोनों विधान सभाओं की पांच-पांच बूथों की वीवीपैट मशीनों की भी काउंटिंग लाॅटरी प्रक्रिया के माध्यम से की जाएगी।


इस अवसर पर रिटर्निंग अधिकारी रुद्रप्रयाग अपर्णा ढौंडियाल एवं रिटर्निंग अधिकारी केदारनाथ जितेंद्र वर्मा ने मतगणना हेतु तैनात किए गए अधिकारियों एवं कार्मिकों को निर्देश दिए हैं कि सभी अधिकारी एवं कर्मचारी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कुशलता के साथ करेंगे तथा उन्हें जो भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है उसे गंभीरता से प्राप्त करें ताकि मतगणना के समय किसी प्रकार की कोई समस्या न होने पाए। दोनों विधान सभाओं में मतगणना हेतु 14-14 टेबल लगाई जाएंगी तथा पोस्टल बैलेट की गणना हेतु 7-7 टेबल लगाई जाएंगी तथा प्रीकाउंटिंग हेतु 10-10 टेबल लगाई जाएंगी। जिसमें विधान सभा रुद्रप्रयाग की काउंटिंग 14 राउंड में पूर्ण होगी तथा विधान सभा केदारनाथ की काउंटिंग 13 राउंड में पूर्ण की जाएगी।

इस अवसर पर नोडल अधिकारी डाक मतपत्र योगेंद्र चौधरी, तहसीलदार रुद्रप्रयाग मंजू राजपूत सहित मतगणना कार्यों हेतु तैनात किए गए माइक्रो आॅब्जर्वर, मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.