उत्तराखंडहेल्थ

स्वास्थ्य विभाग ने विद्यालय स्तर पर चलाया तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम

रुद्रप्रयाग।    स्वास्थ्य विभाग के तत्वाधान में रास्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत राजकीय बालिका इंटर कॉलेज अगस्त्यमुनि व राजकीय इंटर कॉलेज अगस्त्यमुनि में विद्यालय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कर तंबाकू के दुष्प्रभाव के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी।
अपर मुख्य चिकित्साधिकारी विमल गुसाईं ने बताया कि एनटीपीसी कार्यक्रम के तहत छात्रों में तंबाकू के सेवन व लत से बचने के लिए, विद्यालय स्तर पर जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।
उन्होंने ने बताया कि कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन करते हुए एनटीपीसी अनुभाग के माध्यम से 50 विद्यालयों में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने का लक्ष्य रखा गया है। जिसके सापेक्ष 41 विद्यालयों में गतिविधियां आयोजित कर ली गई हैं।


कंसल्टेंट एनसीडी दीपक नौटियाल ने बताया कि रास्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत मंगलवार को कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (सीएचओ) द्वारा छ विद्यालयों में विद्यालय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कर तंबाकू के दुष्प्रभाव की जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि सीएचओ प्रीति दुबे की ओर से जूनियर हाई स्कूल दुर्गाधार, सीएचओ सोनाली नेगी जीआईसी चोपता, सीएचओ शिवानी अधिकारी जूनियर हाईस्कूल हदेतीखाल, सीएचओ मनीष जीआईसी कण्डारा, सीएचओ शिखा रतूड़ी जीआईसी व जीजीआईसी अगस्त्यमुनि में विद्यालय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया। उन्होंने कोटपा अधिनियम 2003 की धाराओं के बारे में भी जानकारी प्रदान की। साथ ही अवगत कराया कि शिक्षण संस्थानों के सो गज के दायरे में तंबाकू उत्पादों की बिक्री पूर्ण तह प्रतिबंधित है व दंडनीय अपराध है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.