उत्तराखंड

महाशिवरात्रि पर्व के लिए 8 क्विटल फूलों से सजा ओंकारेश्वर मन्दिर , केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि महाशिवरात्रि पर होगी तय

रुद्रप्रयाग। बारह ज्योतिर्लिंगों में प्रमुख व हिमालय की गोद मे स्थित भगवान केदारनाथ के कपाट खोलने तथा पंचमुखी चलविग्रह उत्सव डोली के ऊखीमठ से केदारनाथ रवाना होने की तिथि कल महाशिवरात्रि पर्व पर शीत कालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मन्दिर में रावल भीमाशंकर लिंग, मन्दिर समिति के पदाधिकारियों, हक – हकूकधारियों, विद्वान आचार्यों की उपस्थिति में पंचाग गणना के अनुसार घोषित की जायेगी।


मन्दिर समिति द्वारा कपाट खोलने की तिथि के अवसर की सभी तैयारियाँ पूरी कर ली गयी हैं, बाबा केदारनाथ के शीत कालीन गद्दी स्थल ओंकारेश्वर मन्दिर को अनेक प्रकार के फूलों से सजाया गया है। मन्दिर समिति के अधिकारियों ने बताया कि भगवान केदारनाथ के कपाट खोलने की तिथि घोषित करते समय कोविड-19 की गाइड लाइन का सख्ती से पालन किया जायेगा। एवम भक्तों को शोसल डिस्टेंस के तहत पूजा अर्चना, जलाभिषेक किया जायेगा। साथ ही दिल्ली निवासी प्रेम रस्तोगी, अनिल गोयल,नरोत्तम गर्ग, श्याम सुंदर शर्मा के सहयोग से भण्डारे का आयोजन किया जायेगा। मन्दिर समिति द्वारा बताया गया कि महाशिवरात्रि पर्व पर ही मन्दिर समिति तथा केदारनाथ, मदमहेश्वर, विश्वनाथ मन्दिर गुप्तकाशी, ओंकारेश्वर मन्दिर में प्रधान पुजारियों की तैनाती की जायेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.