रूद्रप्रयाग

घटना की हो सीबीआई जांच:- डिमरी

रुद्रप्रयाग :- यूकेडी के प्रत्याशी मोहित डिमरी ने कहा कि पुलिस ने विवेचना से पूर्व ही घटना को भ्रामक बता दिया। जबकि इस मामले में पूरी विवेचना होनी चाहिए थी। घटना के चश्मदीदो के मजिस्ट्रेट के सामने सीआरपीसी की धारा 164 में बयान दर्ज नहीं किये गए। उन्होंने कहा कि पुलिस की विवेचना संदेह के घेरे में है। हम इस पूरे मामले की सीबीआई जांच चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि एक भाजपा नेता द्वारा पुलिस से जांच की मांग करते हुए घटना को तथाकथित बताया था। यही भाजपा नेता पिछले दो दिनों से पुलिस के अधिकारियों से फोन पर वार्ता कर रहा था। इसकी कॉल डिटेल भी निकाली जानी जरूरी है। इन्हीं के दबाव में पुलिस ने घटना को झूठा बताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता उनकी राजनीतिक हत्या करना चाहते हैं। हमें पूरा यकीन है कि इन्हीं के कार्यकर्ताओं ने हमला किया था और अब कार्यकर्ताओं को बचाने के लिए घटना को झूठा बताया जा रहा है। पुलिस की जांच संदेह के घेरे में है। हम इसकी सीबीआई जांच की मांग करते हैं।

उन्होंने कहा कि उन्होंने पुलिस को गांव में शराब और पैसे बांटने की मौखिक सूचना दी थी। लेकिन पुलिस ने किसी को नहीं पकड़ा। भाजपा का एक कार्यकर्ता शराब के साथ पकड़ा तो गया, लेकिन उसे तुरंत छोड़ दिया गया। उन्होंने कहा कि सत्ता पक्ष सरकारी मशीनरी का पूरा दुरुपयोग कर रही है। न्याय नहीं मिलता है तो इस पूरे मामले में उत्तराखंड क्रांति दल आंदोलन करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.